PM Kisan Yojana: खुशखबरी! किसानों का खत्म होगा इंतजार, इस दिन आएगी किसान सम्मान निधि की 14वीं किश्त

by Top Hindustan
0 comment

डेस्क: प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि की 14वीं किश्त का इंताजार देश के सभी पात्र किसानों को बेसब्री से है और जल्द ही यह इंतजार खत्म होने की संभावना है। इस योजना के तहत किसानों को 13 किश्त मिल चुकी है और अब देशभर के करोड़ो किसानों को 2,000 रुपये के 14वीं किश्त का इंतजार कर रहे हैं।
इस दिन आएगी 14वीं किश्त

किसान सम्मान निधि की 14वीं किश्त इसी महीने के आखिर तक हो सकती है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, प्रधानमंत्री मोदी अब 28 जुलाई को देशभर के किसानों के खातों में पीएम किसान सम्मान निधि की 14वीं किश्त किसानों के बैंक अकाउंट में ट्रांसफर कर सकते हैं। आपको बता दें कि 14वीं किश्त का लाभ देश के 10 करोड़ किसानों को मिलेगा।

PM Kisan Yojana: खुशखबरी! किसानों का खत्म होगा इंतजार, इस दिन आएगी किसान सम्मान निधि की 14वीं किश्त

PM Kisan 14th Installment

राजस्थान के दौरे पर होंगे पीएम

28 जुलाई को पीएम मोदी राजस्थान के नागौर के दौरे पर रहेंगे और इसी दौरान वो किसानों को उनकी 14वीं किश्त का भुगतान करेंगे। यहां आपको बता दें कि आगर आपको 14वीं किश्त चाहिए तो आपको ई-केवाईसी करना जरूरी है।

आप आसानी से ई-केवाईसी या तो ऑनलाइन या फिर ऑफलाइन माध्यम से कर सकते हैं। इसके अलावा अब किसानों के लिए अपनी जमीन का सत्यापन कराना भी अनिवार्य कर दिया गया है।

क्या है पीएम किसान योजना?

प्रधान मंत्री किसान सम्मान निधि (पीएम-किसान), का उद्देश्य देश भर में खेती योग्य भूमि वाले किसान परिवारों को वित्तीय सहायता प्रदान करना है, ताकि वे कृषि और संबद्ध से संबंधित खर्चों की देखभाल करने में सक्षम हो सकें। पीएम-किसान योजना के तहत, लाभार्थियों की पहचान करने और उनका सही और सत्यापित डेटा पीएम-किसान पोर्टल पर अपलोड करने की जिम्मेदारी संबंधित राज्य/केंद्र शासित प्रदेश सरकार की है।

इस योजना के तहत 6000 रुपये की राशि किसानों के आधार से जुड़े बैंक खातों में सालाना 2000/- रुपये की तीन समान किस्तों में सीधे हस्तांतरित किए जाते हैं। पीएम-किसान योजना के तहत 11 करोड़ से अधिक लाभार्थी किसान परिवारों को विभिन्न किस्तों के माध्यम से 2.42 लाख करोड़ से अधिक की राशि वितरित की जा चुकी है।

यह योजना केवल भूमिधारक किसानों के लिए लागू है। देश में ऐसे किसानों की संख्या 9.53 करोड़ से अधिक है जिनकी भूमि का विवरण पीएम-किसान पोर्टल पर दर्ज है।

 

You may also like

Leave a Comment