बंगाल में महिला को अर्धनग्न कर पीटने के मामले में पुलिस की बड़ी कार्रवाई, पांच लोगों को किया गिरफ्तार

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

डेस्क: मणिपुर से शर्मनाक वायरल वीडियो होने के 24 घंटे के भीतर पश्चिम बंगाल से एक हैरान करने वाला वीडियो सामने आया, जो मणिपुर से मिलता-जुलता ही था, यहां भी एक महिला का वीडियो वायरल हो रहा था. जिसमें एक महिला नग्न अवस्था में थी. सोशल मीडिया पर दावा किया जा रहा है कि यह वीडियो पश्चिम बंगाल के मालदा जिले की है. वीडियो को बीजेपी के आईटी सेल के हेड अमित मालवीय ने अपने ट्विटर हैंडल पर पोस्ट किया था. वीडियो सामने आने के बाद बीजेपी पश्चिम बंगाल सरकार पर हमलावर हो गई.

पांच लोगों की हुई गिरफ्तारी

वीडियो को पश्चिम बंगाल पुलिस ने संज्ञान लेते हुए जांच के आदेश दिए, जिसके बाद सामने जानकारी आया कि यह वीडियो मालदा का है, इस मामले को लेकर पुलिस ने तीन महिला सहित पांच लोगों को गिरफ्तार किया है. वही पुलिस ने बताया कि यह मारपीट के आदिवासी महिला नहीं थी बल्कि अनुसूचित जाति से हैं. इस घटना के ऊपर बीजेपी ने कहा कि बंगाल में कुछ दिन पहले महिलाओं को निर्वस्त्र कर यातना देने के दौरान पुलिस ने कुछ नहीं किया था, वो मूकदर्शक की तरह खड़ी रही.

वही इस संबंध में बीजेपी नेता अमित मालवीय ने कहा, पश्चिम बंगाल में आतंक का कहर जारी है. मालदा के बामनगोला पुलिस स्टेशन के पाकुआ हाट इलाके में दो आदिवासी महिलाओं को नग्न किया गया, प्रताड़ित किया गया और बेरहमी से पीटा गया, जबकि पुलिस मूकदर्शक बनी रही.

ममता बनर्जी का दिल टूट जाना चाहिए

यह खौफनाक घटना 19 जुलाई की सुबह घटी. महिला सामाजिक रूप से हाशिए पर रहने वाले समुदाय से थी और एक उन्मादी भीड़ उसके खून की प्यासी थी. उन्होंने आगे लिखा कि यह एक ऐसी त्रासदी की ओर ले जा रहा था जिससे ममता बनर्जी का दिल ‘टूट’ जाना चाहिए था और वह केवल आक्रोश जताने के बजाय कार्रवाई कर सकती थीं, क्योंकि वह बंगाल की गृह मंत्री भी हैं. लेकिन उसने कुछ नहीं करने का फैसला किया, न तो उन्होंने इस बर्बरता की निंदा की और न ही दुख और पीड़ा व्यक्त की क्योंकि इससे एक मुख्यमंत्री के रूप में उनकी खुद की विफलता उजागर होती. लेकिन एक दिन बाद, उसने खूब आँसू बहाए और ब्लू मर्डर चिल्लाया, क्योंकि यह राजनीतिक रूप से समीचीन था.

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Leave a Comment