Seema Haider: सीमा हैदर के मामले में विदेश मंत्रालय का बयान, अभी दी जमानत, फिलहाल जांच जारी

By Top Hindustan

Published on:

Follow Us
---Advertisement---

Seema Haider: पाकिस्तानी की सरहद पार कर भारत में प्रवेश करने वाली सीमा हैदर को लेकर अब विदेश मंत्रालय का बयान सामने आया है. विदेश मामलों के प्रवक्ता अरिंदम बागची के अनुसार, हमें मामले की जानकारी है. हम इस मामले पर नजर बनाए हुए हैं. सीमा को कोर्ट के सामने पेश किया गया था. अब वह जमानत पर बाहर है. बागची ने कहा कि अगर मामले को लेकर कोई बड़ा अपडेट सामने आता है तो इसकी सूचना दी जाएगी. इस बीच ऐसा कहा जा रहा है कि सीमा हैदर खाली हाथ वापस अपने वतन की ओर रवाना होगी. बताया जा रहा है कि भारत सरकार की एजेंसियां सीमा को पाकिस्तान डिपोर्ट करने की तैयार कर रही है. मीडिया रिपोर्ट की मानें तो एजेंसियां सीमा हैदर को पाकिस्तान डिपोर्ट करने की योजना बना सकती हैं. सीमा का अवैध रूप से भारत में घुसना डिपोर्ट की बड़ी वजह बताया जा रहा है.

डिपोर्ट करने की वजह यह बताई गई है कि सीमा हैदर अवैध रूप से पाकिस्तान से नेपाल के रास्ते भारत में दाखिल हुई. उसके पास भारत में आने के लिए कोई वीजा नहीं था. इसके साथ सीमा ने अपने चार बच्चों को लेकर अवैध तरीके से भारत में प्रवेश कराया. इसके बाद सीमा के खिलाफ कार्रवाई करते हुए उसे डिपोर्ट किया जा सकता है. मगर एजेंसियां सभी तरह की पूछताछ करने की कोशिश में है.

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, एजेंसियों को सीमा हैदर की सही उम्र का पता अब तक नहीं लग सका है. सीमा ने गुलाम हैदर से 2014 में शादी का एफिडेविट तैयार करवाया था. उस समय उसकी उम्र 19 साल थी और उसके पास से बरामद पासपोर्ट में उसका जन्म 2002 का दिखाया गया है. इसका सही-सही उत्तर सीमा नहीं दे सकी है. बताया जा रहा है कि सीमा का अवैध रूप से भारत में आना ही उसके डिपोर्ट की बड़ी वजह बताया गया है. अगर वो जासूसी के आरोपों से बरी हो जाती है तो अवैध रूप से आने को लेकर उसे डिपोर्ट किया जा सकता है.

आपको बता दें कि सीमा हैदर से अभी यूपी एटीएस लगातार पूछताछ में जुटी हुई है. उसके जासूस होने के एंगल की जांच की जा रही है. हालांकि शुरुआती जांच में जासूसी का संदेह हुआ था. एटीएस की पूछताछ पूरी हो चुकी है. अभी तक उसके खिलाफ जासूसी का कोई एंगल नहीं मिला है. इस दौरान पुलिस और जांच एजेंसियां ने हर दृष्टिकोण से जांच पड़ताल की है. सीमा को डिपोर्ट करने का निर्णय सामने आया है. इस दौरान सचिन मीणा से भी यूपी एटीएस ने पूछताछ की है.

 

---Advertisement---

Leave a Comment