Weather Forecast: भारत में बाढ़ और बारिश से मचा हाहाकर, अगले 12 घंटे पड़ सकते हैं भारी, मौसम विभाग की चेतावनी

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

नई दिल्ली। देश के कई राज्यों में चक्रवात तूफान के बाद बाढ़ और बारिश से हाहाकर मचा हुआ है। बाढ़, बारिश का ये असर सबसे ज्यादा हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में देखने को मिल रहा है। हिमाचल प्रदेश में यहां कुल्लू घाटी में बाढ़ की बुरी स्थिति है। लगातार हो रही बारिश की वजह से लोग त्राहिमाम-त्राहिमाम कर रहे हैं। बारिश की वजह से हिमाचल में 80 लोगों की मौत हो चुकी है। पहाड़ों से लेकर मैदान तक नदियां उफान पर हैं। वहीं, दूसरी तरफ पंजाब में नदियों की बांध टूट रहे हैं और दिल्ली में भी
यमुना का जलस्तर खतरे के निशान के पास पहुंच चुका है।

आईएमडी ने भारत में भारी बारिश के कारण कई राज्यों के लिए रेड और ऑरेंज अलर्ट जारी किया। मौसम कार्यालय ने उत्तराखंड के लिए रेड अलर्ट जारी किया है। अरुणाचल प्रदेश, असम, मेघालय, सिक्किम में आज यानी 12 जुलाई को भारी बारिश होने की संभावना जताई गई है। इसके अलावा उत्तर पश्चिम यूपी में भारी बारिश की उम्मीद है। दिल्ली/एनसीआर में हल्की बारिश होने की संभावना है।”

भारी बारिश के बीच, उत्तराखंड के 4 जिलों में रेड अलर्ट

मौसम विभाग के मुताबिक, उत्तराखंड के चार जिलों-नैनीताल, चंपावत, उधम सिंह नगर और पौढ़ी गढ़वाल के लिए आज यानी 12 जुलाई के लिए रेड अलर्ट जारी किया गया है, क्योंकि राज्य में भारी बारिश होने की संभावना जताई गई है। मौसम विभाग ने हरिद्वार, देहरादून, टिहरी गढ़वाल, रुद्रप्रयाग और उत्तरकाशी जिलों के लिए येलो अलर्ट जारी कर दिया है।

बारिश की वजह से हरियाणा में 15 की मौत

कई दिनों से राज्य में हो रही लगातार बारिश के कारण पंजाब में आठ लोगों की मौत हो गई और हरियाणा में सात अन्य की मौत हुई है। दोनों राज्यों में अब तक कुल 15 लोगों की मौत हो चुकी है। हालांकि तीन दिनों की लगातार बारिश के बाद बारिश की तीव्रता कम हो गई है, लेकिन कई हिस्सों में अभी भी बाढ़ बनी हुई है।

हिमाचल प्रदेश में लगातार बारिश के कारण मंडी में बाढ़ की स्थिति बरकरार है।

उत्तराखंड: राज्य में लगातार हो रही बारिश के कारण पौडी गढ़वाल के कुंजोली बीरोंखाल गांव में एक मकान ढह गया।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Leave a Comment