तमन्ना भाटिया की वेब सीरीज ‘आखिरी सच’ की प्रोड्यूसर बहनों का एक्शन, निखिल नंदा के खिलाफ करवाया मामला दर्ज

by Top Hindustan
0 comment

हॉटस्टार पर हाल ही में स्ट्रीम हुई तमन्ना भाटिया की थ्रिलर वेब-सीरीज ‘आखिरी सच’ से जुड़ा विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है. दो दिन पहले इस सीरीज की प्रोड्यूसर प्रीति सिमोस और नीति सिमोस के खिलाफ इस प्रोजेक्ट से जुड़े एक अन्य निर्माता निखिल नंदा ने धोखाधड़ी के मामले के तहत एफआईआर दर्ज की थी. लेकिन अब सिमोस बहनों ने बकाया का भुगतान ना करने के लिए और प्रोजेक्ट से जुड़े एकाउंट्स की जानकारी ना देने के लिए निखिल नंदा के खिलाफ मामला दर्ज किया है. सिर्फ सिमोस सिस्टर्स ही नहीं बल्कि प्रोडक्शन से जुड़े कई सदस्यों ने भी पूरे पैसे न मिलने की वजह से निखिल नंदा के खिलाफ केस फाइल की है.

जब इस पूरे मामले को लेकर टीवी9 हिंदी डिजिटल से की खास बातचीत में प्रीति और नीति सिमोस की टीम ने कहा गया कि निखिल नंदा को एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री का अनुभव न होने के बावजूद प्रीति सिमोस और नीति सिमोस ने उन्हें शो में प्रोड्यूसर बनाया. शुरुआत में सिमोस बहनों को ये एक अच्छी साझेदारी लगी. उनका मानना था कि निखिल नंदा खुद दिल्ली से होने की वजह से उन्हें रियल लोकेशन पर शूटिंग करने में आसानी होगी.

टीम ने आगे कहा कि जैसे-जैसे शो आगे बढ़ा, प्रीति सिमोस और नीति सिमोस को वेंडर्स के ईमेल आने लगें कि उन्हें समय पर भुगतान नहीं किया जा रहा है. निखिल ने सभी खातें (एकाउंट्स) अपने कब्जे में ले लिए थे और जब उन्हें इस बारे में सवाल पूछे गए तब वो बहाने देते गए.

जानें क्या है सिमोस बहनों का कहना

प्रीति सिमोस ने कहा कि,”ये दुर्भाग्यपूर्ण है कि हमने उन्हें अपनी इंडस्ट्री में आने का मौका दिया और एक सफल शो देने के बावजूद न केवल हमें बल्कि इस प्रोजेक्ट के लिए मेहनत करने वाली टीम को पैसे भी नहीं दिए जा रहे हैं. इतना ही नहीं खुद को बचाने के लिए निखिल नंदा की तरफ से टीम के हर सदस्य पर झूठे आरोप भी लगाए जा रहे हैं.”.

लाइन प्रोड्यूसर ने भी किया केस

प्रीति ने आगे कहा,”वो (निखिल नंदा) पहले भीख मांगते थे, फिर हमें धमकाते थे कि वो हम हमारे सेलिब्रिटी कॉन्टेक्ट्स से उनके बारे में बात करें. शुरुआत में हमें ये अजीब लगता था. लेकिन अब नहीं.”

प्रीति सिमोस के साथ साथ दिल्ली के जाने-माने लाइन प्रोड्यूसर आरपी सिंह ने भी दिल्ली उच्च न्यायालय में नंदा द्वारा भुगतान न करने का मामला दर्ज किया है. सिमोस बहनों की टीम ने कहा कि आरपी सिंह का कहना है कि उन्होंने आखिरी सच की शूटिंग पूरी करने के लिए अपने खुद के पैसों का इस्तेमाल किया, शूटिंग के बाद, नंदा की टीम ने उनके कॉल को टालना शुरू कर दिया.

You may also like

Leave a Comment