Janmashtami 2023: देश में जन्माष्टमी की धूम, जानें श्री बांके बिहारी मंदिर का कार्यक्रम

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Janmashtami 2023: आज 7 सितंबर को पूरे देश में हर्षोल्लास के साथ जन्माष्टमी का त्योहार मनाया जा रहा है. आज के दिन बाल गोपाल कान्हा जी का आगमान धरती पर हुआ था. इसी दिन मथुरा की जेल में मां देवकी और वासुदेव को कन्हा जी प्राप्त हुए. ये भगवान श्रीकृष्ण का 5250वां जन्मदिवस है. इस साल की जन्माष्टमी को काफी खास माना जा रहा है. ऐसा संयोग 30 बाद आया है. पूरे मथुरा- वृन्दावन में कान्हा का जन्मोत्सव आज 7 सितंबर की रात्री को मनाया जाएगा.

फूलों से सजाया गया

मथुरा में भगवान श्रीकृष्ण के जन्मस्थल को फुलों और लाइट से सजाया गया है. भगवान का जन्म आज से 5250 साल पहले कंस के मथुरा जेल में हुआ था. वृन्दावन के प्रसिद्ध बांके बिहारी मंदिर में जन्माष्टमी आज 7 सितंबर की रात को मनाया जाएगा. इस जन्मोत्सव से पहले बांके बिहारी मंदिर रंग बिरेंगे फूलों से सजाया गया है. सुबह से ही भक्तों का तांता लगा हुआ है.

बांके बिहारी मंदिर का कार्यक्रम

बांके बिहारी मंदिर की ओर से जानकारी दी गई है कि 7 सितंबर को सुबह 7.45 बजे मंदिर का कपाट खुलेंगे. इसके बाद श्रृंगार आरती 7.55 पर होगी. वहीं राजभोग आरती 11.55 बजे होगी. इसके बाद 12 बजे कपाट बंद कर दिया जाएगा. मंदिर के कपाट फिर शाम को 5.30 बजे खुलेंगे. शयनभोग आरती 9.25 होगी जिसके बाद 9.30 बजे कपाट बंद कर दिया जाएगा. मध्यरात्री ठीक 12 बजे श्री बांके बिहारी का अभिषेक किया जाएगा. इस अभिषेक के बाद 8 सितंबर की रात 1.45 बजे मंदिर एक बार फिर खुलेंगे और रात्री 1.55 पर मंगला आरती की जाएगी. ठीक 2 बजे छींटा देकर पर्दा लगा दिया जाएगा. इसके बाद फिर से दर्शन 2 बजे से सुबह 5.30 तक हो पाएंगे.

मंदिर की ओर से लोगों से अपील की गई है कि जन्मोत्सव को देखते हुए छोटे बच्चे और बूढ़ों को साथ न लाए. माना जा रहा है कि इस साल श्री बांके बिहारी मंदिर में 80 लाख भक्त आएंगे जो पिछले साल ये 40 लाख था.

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Leave a Comment