दुश्मन बने दोस्त, Pawan Singh ने Khesari Lal को भाई कहकर लगाया गले; कुछ इस तरह एतिहासिक बन गई अवॉर्ड शो की शाम

By Top Hindustan

Published on:

Follow Us
---Advertisement---

डेस्क। भोजपुरी सिनेमा जगत के सुपरस्टार पवन सिंह और खेसारी लाल यादव के बीच लंबे वक्त से जारी शीत युद्ध अब खत्म हो गया है। काफी समय बाद रविवार को दोनों दिग्गज कलाकार एक मंच पर दिखे और भोजपुरी एक्टर-सिंगर रवि किशन ने दोनों कलाकारों के बीच दूरी मिटाने की पहल की, जो सफल भी हो गई।

दरअसल, मौका था फिल्मफेयर फेमिना भोजपुरी आइकॉन्स अवार्ड शो की शाम का। भोजपुरी सिनेमा, साहित्य, खेल और संगीत के क्षेत्र में अपने काम से छाप छोड़ने वाले दिग्गजों का जश्न मनाने के लिए पहली बार इस कार्यक्रम का आयोजन किया गया था। इसमें मनोज तिवारी, रवि किशन, मोनालिसा, विशाल सिंह सहित भोजपुरी जगत के तमाम छोटे-बड़े चेहरों ने शिरकत की।

रवि किशन ने दोनों कलाकारों को मंच पर बुलाया

इस अवॉर्ड शो में भोजपुरी सिनेमा जगत के कट्टर दुश्मन माने जाने वाले सिंगर-एक्टर पवन सिंह और खेसारी लाल यादव भी पहुंचे थे। कार्यक्रम के दौरान रवि किशन होस्ट की भूमिका निभा रहे थे। उन्होंने पवन सिंह और खेसारी लाल को एक साथ मंच पर बुलाया और दोनों को आमने-सामने खड़ा कर दिया।

पवन सिंह बोले- भैया, आप आदेश दीजिए

दोनों कलाकारों को एक मंच पर देख वहां मौजूद दर्शकों की तालियों की गड़गड़हाट से अवॉर्ड शो गूंज उठा। रवि किशन ने अपने एक हाथ से पवन सिंह का हाथ और दूसरे से खेसारी लाल का हाथ पकड़ा और फिर फिल्म ‘मेरा नाम जोकर’ के प्रसिद्ध गीत ‘जीना यहां-मरना यहां’ गुनगुनाया।

रवि किशन ने कहा कि यह एक एतिहासिक रात है, जिसका इंतजार भोजपुरी समाज का हर व्यक्ति कर रहा है। इसके बाद पवन सिंह ने रवि किशन से कहा कि भैया आप आदेश दीजिए। इसपर खेसारी ने कहा कि हम दोनों के बीच झगड़ा ने कभी था, न है और न कभी होगा।

गले लगकर तोड़ी दुश्मनी की दीवार

खेसारी लाल यादव ने पवन सिंह को बड़ा भाई कहते हुए कहा कि मैं जब तक धरती पर हूं, ये बड़े ही रहेंगे। हमेशा सम्मान है। इसके बाद पवन सिंह ने गाना गाया- तोहर जईसन भाई कहां, तोहरा जईसन यार कहां। इसके बाद खेसारी लाल यादव खुद को रोक नहीं पाए और पवन सिंह के गले लग गए। पवन सिंह ने कहा कि हमलोग भाई है।

---Advertisement---

Leave a Comment