Ration Card: राशन कार्ड धारकों की आ गई मौज! अब गेहूं, चावल के साथ इतने किलो मिलेगा बाजरा, देखें डिटेल्स

By Top Hindustan

Published on:

Follow Us
---Advertisement---

Ration Card: देश में वोटर आईडी, पैन कार्ड, आधार कार्ड और पासपोर्ट के बाद राशन कार्ड एक ऐसा दस्तावेज है। जिस पर सरकार न केवल फ्री में राशन देने का काम करती है। बल्कि सरकारी योजनाओं में लाभ देने का प्रबंध भी करती है। तो वही राशन कार्ड एक ऐसा दस्तावेज पर परिवार के सभी सदस्यों का नाम होता है। हाल ही में इस राज्य में राशन कार्ड पर अब गेहूं, चावल के साथ-साथ इस मोटे अनाज का भी वितरण किया जा रहा है। इस खबर के आते ही राशन कार्डधारकों में खुशी की लहर दौड़ गई है।

अगर आप उत्तर प्रदेश में रहते हैं, तो आपके लिए सरकार राशन कार्ड पर बड़ा लाभ दे रही है। राशन कार्ड धारकों के लिए किए मोटे अनाज का वितरण का ऐलान पर प्रशासन ने अमल करना शुरू कर दिया है। उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर जिले में का वितरण शुरू होने वाला है।

आप को बता दें कि खबरों में बताया जा रहा है कि यूपी के शाहजहांपुर जिले में राशनकार्ड धारकों को बंपर लाभ मिलने वाला है। राशनकार्ड पर अब गेहूं, चावल के साथ बाजरे का भी वितरण किया जाएगा। दरअसल केंद्र सरकार से लेकर राज्य सरकारें मोटे अनाज को लेकर काफी बढ़ावा दे रही है।

Sukanya Samriddhi Yojana: बेटी के सुनहरे भविष्य के लिए आज ही खोले ये खाता, घर बैठे मिलेंगे 70 लाख रुपये

वही इस संबध में डीएसओ ओम हरि उपाध्याय ने कहा हैं कि अंत्योदय कार्डधारकों को अभी तक 21 किलोग्राम चावल और 14 किलोग्राम गेहूं वितरित किया जाता था। फरवरी माह में 21 किलोग्राम चावल, नौ किलोग्राम गेहूं और पांच किलो बाजरा भी दिया जाएगा।सरकार मोटे अनाजों में राशन कार्ड पर बाजार जैसे अनाज को वितरण को ला रही है।

इसके अलावा ऐसे गृहस्थ कार्ड धारकों को एक यूनिट पर 2 किलोग्राम गेहूं और 3 किलो चावल वितरित किया जाता था, लेकिन फरवरी माह से एक यूनिट पर 1 किलोग्राम गेहूं,1 किलोग्राम बाजरा और 3 किलोग्राम चावल का वितरण मिलेगा। दरअसल सरकार ने फरवरी माह से बाजरा का वितरण अनिवार्य कर दिया गया है। जिससे लाखों लोगों को ये बंपर लाभ मिलने वाला है। ऐसे में आप भी राशन के दुकान पर जाकर ये लाभ उठा सकते हैं।

PM Kisan Yojana: किसानों के लिए जरुरी अपडेट, इस दिन ट्रांसफर होगी 16वीं किस्त, फटाफट लिस्ट में चेक करें नाम

---Advertisement---

Leave a Comment